Pratyusha के बॉयफ्रेंड राहुल ने किये सनसनीखेज खुलासे…

0
124

गौरतलब है कि टेलीविजन की मशहूर एक्ट्रेस और फेमस सीरियल “बालिका वधू” फेम आनंदी उर्फ प्रत्युषा बनर्जी ने शुक्रवार काे अपने मुंबई स्थित घर में आत्महत्या कर ली थी। 24 साल की प्रत्युषा बनर्जी का अंतिम संस्कार ओशिवारा में शनिवार शाम हुआ था। प्रत्युषा का अंतिम संस्कार दुल्हन की लिबास में किया गया था।

प्रत्युषा के सुसाइड करने के पीछे क्या कारण था इसकी लगातार पड़ताल चल रही है और कुछ अहम खुलासे भी हुए है। इस केस में उनके बॉयफ्रेंड राहुल राज सिंह ने भी अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कुछ खुलास किये है।

ब्वॉयफ्रेंड राहुल राज सिंह ने अपनी जुबान खोल दी है। राहुल ने पुलिस को दिए बयान में यह स्वीकार किया है कि उनका और प्रत्यूषा का झगड़ा हुआ था। लेकिन इस बात से इंकार किया कि उन्होंने प्रत्यूषा से पैसे लिए थे। उन्होंने कहा है कि वह जो भी कमाती थी, सब अपने पेरेंट्स को भेज देती थी। मैं यह मानता हूं कि कई बार हमारा झगड़ा हुआ था। उसके सिर पॉपुलैरिटी का नशा चढ़ गया था। वह हमेशा मुझसे लड़ती थी। राहुल का कहना है कि वह निर्दोष है।

राहुल ने आगे अपने बयान में कहा,”1 अप्रैल को मेरी प्रत्यूषा के साथ बहस हुई थी।” वैसे राहुल ने अभी तक बहस का कारण नहीं बताया है। उनके मुताबिक वे इस बहस से पहले अपनी एक फीमेल फ्रेंड के साथ माउंट मैरी चर्च गए थे। प्रत्यूषा शुक्रवार को सुबह से ही शराब पी रही थी।

राहुल ने पुलिस को बताया कि गुरुवार रात वे प्रत्यूषा और अपनी एक अन्य फीमेल फ्रेंड के साथ गोरेगांव स्थित फ्लैट में गए थे। तीनों ने वहां एक साथ ड्रिंक की। इसके बाद आधीरात के समय उनकी फीमेल फ्रेंड ने बांद्रा स्थित माउंट मैरी चर्च विजिट की इच्छा जाहिर की और राहुल उनके साथ चले गए। वे सुबह चार बजे वापस आए और प्रत्यूषा के साथ अपने कमरे में सोने चले गए। सुबह जैसे ही वे उठे, उनके बीच फिर से बहस शुरू हो गई। इस दौरान प्रत्यूषा शराब पीने लगी। राहुल ने उन्हें रोकने की कोशिश की, लेकिन वे नही मानी अौर राहुल ने भी उन्हें ज्वाइन कर लिया।

शुक्रवार दोपहर करीब एक बजे वे किसी काम से घर से बाहर चले गए। इसके एक घंटे बाद उन्होंने प्रत्यूषा को फोन किया। पहले तो प्रत्यूषा कई बार राहुल के फोन को इग्नोर किया। जब फोन उठाया तो राहुल ने उनसे लंच पैक कराकर लाने के बारे में पूछा। लेकिन उन्होंने मना कर दिया।

जब राहुल वापस घर आए तो उन्होंने देखा दरवाजा बंद था। काफी कोशिशो के बाद जब दरवाजा नही खुला तो उन्होंने पड़ोसी के नौकर की मदद ली। राहुल ने बालकनी से घर का दरवाजा खोला और जैसे ही अंदर एंटर हुए तो प्रत्यूषा को लिविंग रूम के पंखे से लटका पाया। हैरान और डरे-सहमे राहुल ने अपने अंकल को फोन किया और प्रत्यूषा के पेरेंट्स को भी इन्फॉर्म किया। इसके बाद वे प्रत्यूषा को लेकर कोकिलाबेन अस्पताल पहुंचे, जहा डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। यह वह कहानी है, जो राहुल ने पुलिस को बताई। राहुल ने यह भी बताया कि उनके वकील ने उन्हें अस्पताल में न रुकने की सलाह दी लेकिन वह नही माने।

rahul raz

LEAVE A REPLY